Advertisment

प्रधानमंत्री ने अजमेर दरगाह के लिए चादर भेंट की

  • Sat, 02 Mar 2019
  • National
  • Saleem Khilji

मोदीजी के ट्विटर पेज पर यह ख़बर पढ़कर जगजीत सिंह की गाई हुई एक ग़ज़ल का ये मिसरा याद आया,

मेरे जैसे बन जाओगे जब इश्क़ तुम्हें हो जायेगा
दीवारों से टकराओगे जब इश्क़ तुम्हें हो जायेगा

हर बात गवारा कर लोगे मन्नत भी उतारा कर लोगे
तावीज़ें भी बँधवाओगे जब इश्क़ तुम्हें हो जायेगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती के 807वें उर्स के अवसर पर अपनी ओर से चादर चढ़ाने के लिए शनिवार को अजमेर शरीफ के दरगाह के एक प्रतिनिधिमंडल को इसे सौंपा। प्रधानमंत्री ने दरगाह के प्रतिनिधिमंडल को चादर सौंपने की तस्वीर को ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा कि इसे ख्वाजा चिश्ती के उर्स में चढ़ाया जाएगा।

चुनाव सर पर है, वोट के लिए कुछ तो करना ही पड़ेगा.

More in this..